Free Christian classic ebooks for you to download:
Browse books now

Multilingual Online Bible


Urdu (Devanagari)
Type your search text here






Choose a Bible


Select book or range
Chapter


Urdu (Devanagari), Psalms 128

1    ज़ियारत का गीत। मुबारक है वह जो रब्ब का ख़ौफ़ मान कर उस की राहों पर चलता है।

2    यक़ीनन तू अपनी मेहनत का फल खाएगा। मुबारक हो, क्यूँकि तू काम्याब होगा।

3    घर में तेरी बीवी अंगूर की फलदार बेल की मानिन्द होगी, और तेरे बेटे मेज़ के इर्दगिर्द बैठ कर ज़ैतून की ताज़ा शाख़ों की मानिन्द होंगे।

4    जो आदमी रब्ब का ख़ौफ़ माने उसे ऐसी ही बर्कत मिलेगी।

5    रब्ब तुझे कोह-ए-सिय्यून से बर्कत दे। वह करे कि तू जीते जी यरूशलम की ख़ुशहाली देखे,

6    कि तू अपने पोतों-नवासों को भी देखे। इस्राईल की सलामती हो!


Psalms 127    Choose Book & Chapter    Psalms 129


Licensed to Jesus Fellowship. All Rights reserved. (Script Ver 2.0.2)
© 2002-2021. Powered by BibleDatabase with enhancements from the Jesus Fellowship.